अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र 2022: एप्लीकेशन फॉर्म ऑनलाइन आवेदन

महाराष्ट्र अंतरजातीय विवाह योजना का आवेदन और मै महाराष्ट्र अंतरजातीय विवाह योजना फॉर्म
Maharashtra Inter-Caste Marriage Online /और फॉर्म –

अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र –

इस योजना को शुरू करने का मेन मुद्दा यह है की भेदभाव खत्म किया जाए इस कारण एक योजना चलाई जिसका नाम है| अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र की शुरुआत राज्य सरकार द्वारा इंटर-कास्ट मैरिज इस योजना से जाति भेदभाव को खत्म करने के लिए किया गया है । इस योजना का लाभ लेने के लिए पहले इंटर-कास्ट मैरिज करने वाले लाभार्थी जोड़ो को 50000 रूपये की राशि प्रदान दी जाएगी| अब इस योजना का लाभ लेने के लिए सरकार ने 50000 रुपये से बढ़ाकर 300000 रूपये
राशि कर दी है इसके तहत राज्य का कोई भी जोड़ा जो अंतरजातीय विवाह करने जा रहा है और जिसमें पति या पत्नी में से कोई एक अनुसूचित जाति (दलित) का है, अब उसे प्रोत्साहन के रूप में तीन लाख रुपये की राशि मिलेगी।

[विवाह योजना]Inter-Caste Marriage Scheme 2022

महाराष्ट्र राज्य सरकार का कोई सामान्य वर्ग का लड़का या लड़की अनुसूचित जाति के लड़का या लड़की से विवाह करते हैं| तो उन्हें इस योजना का लाभ राज्य सरकार के द्वारा दिया जायेगा । इस योजना का लाभ महाराष्ट्र के केवल वे जोड़े जिन्होंने हिंदू विवाह अधिनियम, 1954या विशेष विवाह अधिनियम, 1955 के तहत अपनी शादी का पंजीकरण कराया है |[Maharashtra Inter-Caste Marriage Scheme 2022] के तहत लाभार्थी जोड़ो को दी जाने वाली राशि केंद्र और राज्य सरकार के द्वारा किया (Funds to be given to beneficiary couples will be made by the Central and State Government ) दी जायेगी । यह राशि केंद्र और राज्य सरकार द्वारा 50 – 50% दी जाएगी। क्योकि इस योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए आपको इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना होगा | अगर आप ये नहीं करते हैं तो राशि नहीं दी जाएगी|

अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र 2022 के उद्देश्य

जैसा की आप लोग तो सब जनते हैं की भेदभाव बहुत तेजी से बढ़ रहा है तो उसे मिटाने के लिए सरकार समय समय पर ऐसी योजना निकालती है तकी भेदभाव मिट जाए तो एक ऐसी योजना निकाली है जिसका नाम है अंतरराष्ट्रीय विवाह योजना महाराष्ट्र ये योजना निकाली गई इस योजना का उदेश्य यही है| इंटर कास्ट मर्रिज करने वाले जोड़ो को राज्य सरकार के द्वारा 3 लाख रूपये तक की प्रोत्साहन धनरशि दी जाएगी । इस महाराष्ट्र अंतरजातीय विवाह योजना 2022 के ज़रिये देश में अंतरजातीय विवाह को लेकर भेदभाव को कम करना ।इस योजना से न केवल समाज अंतरजातीय विवाह को बढ़ावा मिलेगा वरना योग्य दंपत्ति को प्रोत्साहन धनराशि भी दी जाएगी ।

अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र 2022 Highlights

शुरू किया गया है महाराष्ट्र सरकार के द्वारा
योजना का नाम अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र
लाभार्थी राज्य के इंटर-कास्ट मैरिज करने वाले लाभार्थी होंगे
उद्देश्य प्रोत्साहन धनरशि प्रदान
ऑफिसियल वेबसाइट https://sjms.rajasthan.gov.in/

अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र 2022 की विशेषताएं –

1.इस योजना के द्वारा पहले राज्य सरकार 50000 रुपये दे रही थी अब डॉ आंबेडकर फाउंडेशन के द्वारा 2.50 लाख रूपये मिलाकर कुल 300000 लाख रूपये की राशि लाभार्थी को दी जायेंगी ।
2.अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र 2022 भेदभाव मिटा दिया जाए जातिगत भेदभाव को कम कर सभी धर्मों में समानता लाना
इस योजना के ताहत यह राशि विशेष रूप से उन युवक या युवती को दी जाएगी जिन्होंने अनूसूचित जाति या जनजाति के युवक व युवती से शादी किया है |
3.महाराष्ट्र अंतरजातीय विवाह योजना का लाभ लेने वाले लाभार्थी की राशि सीधी बैंक अकाउंट में ट्रांसफर की जाएगीअंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र का लाभ लेने के लिए लाभार्थी का बैंक खाता होना अनिवार्य है तथा बैंक खाता के साथ आधार नंबर लिंक होना चाहिए|
5.इस योजना में अब सालाना आया वाला हटा दिया गया है सालाना आय की सीमा को भी खत्म कर दिया है। इस का कारण यह है कि ज्यादा-से-ज्यादा लोग अंतर्जातीय विवाह योजना का लाभ उठा सके।

अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र 2022 के लाभार्थी –

1.अंतरजातीय विवाह योजना योजना में आवेदन करने वाला आवेदक महाराष्ट्र का स्थायी निवासी होना अनिवर्य है|
2.अंतरजातीय विवाह योजना का लाभ लेने वाले लाभार्थी की लड़की की उम्र 18 वर्ष या इसे अधिक तथा लड़के की उम्र 21 वर्ष या इसे अधिक होनी चाहिए|

  1. इस योजना का हिस्सा बनने वाले विवाहित जोड़े में से किसी भी एक का अनूसूचित जाति या जनजाति से सम्बन्ध रखना अनिवार्य होगा ।
  2. केंद्र और राज्य सरकार के द्वारा दी जाने वाली के लिए विवाहित जोड़े को कोर्ट मैरिज करना अनिवार्य है।
  3. केवल वे ही इस योजना का लाभ उठा सकते जो इंटर-कास्ट मैरिज स्कीम के तहत यदि कोई अनुसूचित जाति या जनजाति का व्यक्ति किसी पिछड़े वर्ग या सामान्य वर्ग के युवक या युवती से विवाह करता है तो योजना का लाभ दिया जाएगा |

अंतरजातीय विवाह योजना 2022 लाभार्थी के दस्तावेज़

  • आयु प्रमाण पत्र
  • सबसे पहले आधार कार्ड होना अनिवर्य है|
  • कोर्ट मैरिज का प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक अकाउंट पासबुक होना
  • पासपोर्ट साइज फोटो होना अनिवर्य है|
  • जाति प्रमाण पत्र

Leave a Comment

DMCA.com Protection Status
error: Content is protected !!